My Hindi Forum

Go Back   My Hindi Forum > Hindi Forum > Debates

Reply
 
Thread Tools Display Modes
Old 06-04-2015, 08:52 PM   #1
dipu
VIP Member
 
dipu's Avatar
 
Join Date: May 2011
Location: Rohtak (heart of haryana)
Posts: 10,062
Thanks: 3,188
Thanked 1,367 Times in 1,152 Posts
Rep Power: 84
dipu has a reputation beyond reputedipu has a reputation beyond reputedipu has a reputation beyond reputedipu has a reputation beyond reputedipu has a reputation beyond reputedipu has a reputation beyond reputedipu has a reputation beyond reputedipu has a reputation beyond reputedipu has a reputation beyond reputedipu has a reputation beyond reputedipu has a reputation beyond repute
Send a message via Yahoo to dipu
Default मुसलमान ना होती तो मुझे पूछते इतना?

बारह साल की मरियम सिद्दकी को गीता प्रतियोगिता जीतने के बाद मिली शोहरत भा तो रही है लेकिन मन में एक सवाल भी बार-बार उठ रहा है.
मुंबई की रहने वाली मरियम ने हाल में एक गीता क्विज़ जीता है. उस प्रतियोगिता में तीन हज़ार दूसरे लड़के लड़कियां भी शामिल हुए थे. ये प्रतियोगिता इस्कॉन ने आयोजित की थी.
टेलीवीज़न चैनल, मैगज़ीन, अख़बार और दूसरे लोग उनसे लगातार बात करने की कोशिश कर रहे हैं.
बीबीसी से बातचीत में उन्होनें पूछा, "मेरा एक सवाल है आपसे, क्या हर किसी के साथ ऐसा ही होता है जब वो गीता याद कर लेता है?"
वो कहती हैं, "मैं नहीं जानती कि क्या ये सब इसलिए है कि मैं एक मुसलमान हूं या फिर इसलिए कि मैंने गीता पढी है?"
वो मानती हैं कि अगर वो मुसलमान नहीं होती तो शायद उन्हें इतनी तव्वजो नहीं मिलती. एक सवाल और है उनके मन में - जब सभी धर्म समान हैं तो सिर्फ़ मेरे गीता पढ़ लेने पर इतनी चर्चा क्यों!
राजनीति न करें
गीता पढ़ने को बस एक शौक़ मानने वाली मरियम का कहना है कि मैंने दूसरी धार्मिक किताबें भी पढ़ी हैं उनके बारे में सवाल नहीं हो रहे हैं.
कुछ स्थानीय नेताओं के इस मुद्दे पर बयान देने के सवाल पर वो कहती हैं, "मैंने गीता इसलिए पढ़ी क्योंकि मैं अपने मां बाप को इसका मतलब बताना चाहती थी, राजनीति मेरा मक़सद नहीं है."
उन्होंने ज़ोर देकर कहा कि एक मुसलमान ने गीता पढ़ी इसे राजनीतिक रंग पहनाने की आवश्यक्ता नहीं.

ये पूछे जाने पर कि क्या उनके कुछ हिंदू दोस्त हैं जो क़ुरान पढ़ते हैं, "मैं उनकी ज़िंदगी के बारे में तो नहीं कह सकती लेकिन हां अभी तक मेरे किसी दोस्त ने कभी क़ुरान के बारे में कुछ जानने की कोशिश नहीं की है."
'दंगे फ़साद क्यों होते हैं'
मरियम के साथ उनके पिता भी मौजूद थे जो खुद एक मीडिया संस्थान चलाते हैं, उन्होनें बताया कि अपने बच्चों को धर्मों में फ़र्क करना उन्होनें नहीं सिखाया लेकिन वो जानते हैं कि रोज़मर्रा की ज़िंदगी में फ़र्क होता है.
लव जिहाद के सवाल पर वो कहते हैं, "मैं जानता हूं कि ये एक सच्चाई है और कई लोग ऐसे हैं जो धर्म को अपना हथियार बनाते हैं. लव जिहाद और धर्मांतरण जैसी चीज़ें ही बांटती हैं और चाहे हिंदू हों या मुस्लिम अपने मतलब के लिए लोग हमें बांटते हैं."
अपने पिता की बात को आगे बढ़ाते हुए मरियम ने कहा, "जब सभी धर्मों के ग्रंथ हमें एक जैसी बाते सिखाते हैं तो फिर हमारे देश में ये दंगा-फ़साद क्यों होता है, ये कौन लोग हैं जो नफ़रत फ़ैला रहे हैं?"
12 साल की इस बच्ची के इस मासूम सवाल का जवाब न तो मुझे पता था कि गीता में था या नहीं, न इसका जवाब पिता के पास है.
मरियम बातचीत को ख़त्म कर छोटे भाई के साथ बाहर निकल जाती हैं मुझे इस सवाल के साथ छोड़कर.
__________________

Disclamer :- All the My Post are Free Available On INTERNET Posted By Somebody Else, I'm Not VIOLATING Any COPYRIGHTED LAW. If Anything Is Against LAW, Please Notify So That It Can Be Removed.
dipu is offline   Reply With Quote
The Following 4 Users Say Thank You to dipu For This Useful Post:
Deep_ (24-04-2015), ndhebar (27-04-2015), rajnish manga (24-04-2015), soni pushpa (26-05-2015)
Old 23-04-2015, 03:48 PM   #2
soni pushpa
Diligent Member
 
Join Date: May 2014
Location: east africa
Posts: 1,258
Thanks: 1,379
Thanked 1,053 Times in 755 Posts
Rep Power: 57
soni pushpa has a reputation beyond reputesoni pushpa has a reputation beyond reputesoni pushpa has a reputation beyond reputesoni pushpa has a reputation beyond reputesoni pushpa has a reputation beyond reputesoni pushpa has a reputation beyond reputesoni pushpa has a reputation beyond reputesoni pushpa has a reputation beyond reputesoni pushpa has a reputation beyond reputesoni pushpa has a reputation beyond reputesoni pushpa has a reputation beyond repute
Default Re: मुसलमान ना होती तो मुझे पूछते इतना?

सार्थक बात कही उस बच्ची ने धर्मका मतलब यदि इतनी ही सरलता और सहजता से हर कोइ ले ले, राजनीती का रंग चढ़े उसपर न चढ़ाया जाय और न ही अतिशय अन्धविश्वास आदि का रंग धर्म को ना लगाया जाय तो कोई फसाद कोई दंगे न हो ..और आज के समय में जो धर्म के नामपर इतने प्राणों की बलि दी जा रही हैऔर बलि ली जा रही है उससे ये समाज बच जायेगा और धर्म का हम इन्सान सही मायनों में आदर कर सकेंगे | जो बात इतनी छोटी सी बच्ची ने समझी काश ये बात सारा मानव समाज समझ पाता .


बहुत अच्छी रचना धन्यवाद दीपुजी
soni pushpa is offline   Reply With Quote
The Following User Says Thank You to soni pushpa For This Useful Post:
Rajat Vynar (23-04-2015)
Old 24-04-2015, 12:17 AM   #3
Deep_
Moderator
 
Deep_'s Avatar
 
Join Date: Aug 2012
Posts: 1,977
Thanks: 835
Thanked 500 Times in 411 Posts
Rep Power: 32
Deep_ has a reputation beyond reputeDeep_ has a reputation beyond reputeDeep_ has a reputation beyond reputeDeep_ has a reputation beyond reputeDeep_ has a reputation beyond reputeDeep_ has a reputation beyond reputeDeep_ has a reputation beyond reputeDeep_ has a reputation beyond reputeDeep_ has a reputation beyond reputeDeep_ has a reputation beyond reputeDeep_ has a reputation beyond repute
Default Re: मुसलमान ना होती तो मुझे पूछते इतना?

यह बच्ची बहुत चर्चा में रही है। अगर हम सभी एक दुसरे के धर्म को मान दे, ईज्ज़त दे...तभी सही अर्थ में धार्मिक कहेलाएंगे।
Deep_ is offline   Reply With Quote
The Following User Says Thank You to Deep_ For This Useful Post:
soni pushpa (26-05-2015)
Old 24-04-2015, 11:00 AM   #4
rajnish manga
Super Moderator
 
rajnish manga's Avatar
 
Join Date: Aug 2012
Location: Faridabad, Haryana, India
Posts: 12,358
Thanks: 4,753
Thanked 4,235 Times in 3,291 Posts
Rep Power: 227
rajnish manga has a reputation beyond reputerajnish manga has a reputation beyond reputerajnish manga has a reputation beyond reputerajnish manga has a reputation beyond reputerajnish manga has a reputation beyond reputerajnish manga has a reputation beyond reputerajnish manga has a reputation beyond reputerajnish manga has a reputation beyond reputerajnish manga has a reputation beyond reputerajnish manga has a reputation beyond reputerajnish manga has a reputation beyond repute
Default Re: मुसलमान ना होती तो मुझे पूछते इतना?

एक अहम विषय पर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए दीपू जी बधाई के पात्र हैं. चर्चा में अपने योगदान के लिए पुष्पा सोनी जी तथा दीप जी का धन्यवाद.




__________________
आ नो भद्रा: क्रतवो यन्तु विश्वतः (ऋग्वेद)
(Let noble thoughts come to us from every side)
rajnish manga is offline   Reply With Quote
The Following 2 Users Say Thank You to rajnish manga For This Useful Post:
Deep_ (24-04-2015), soni pushpa (26-05-2015)
Old 06-06-2015, 11:09 PM   #5
manishsqrt
Member
 
Join Date: Jun 2015
Location: varanasi
Posts: 102
Thanks: 2
Thanked 55 Times in 39 Posts
Rep Power: 5
manishsqrt is a jewel in the roughmanishsqrt is a jewel in the roughmanishsqrt is a jewel in the rough
Default Re: मुसलमान ना होती तो मुझे पूछते इतना?

Is post me ek bahut hi mahatvapurn vishay uthaya gaya hai, ye prashn mere mann me bhi barambar utha.Ye ek katu satya hai ki hamara samaj har vishay par dikhawe aur glamour ke piche kuch jyada hi bhag raha hai.Aur ab ye aadat bimari banti ja rahi hai.
manishsqrt is offline   Reply With Quote
Reply

Bookmarks

Thread Tools
Display Modes

Posting Rules
You may not post new threads
You may not post replies
You may not post attachments
You may not edit your posts

BB code is On
Smilies are On
[IMG] code is On
HTML code is Off



All times are GMT +5.5. The time now is 02:37 AM.


Powered by: vBulletin
Copyright ©2000 - 2017, Jelsoft Enterprises Ltd.
MyHindiForum.com is not responsible for the views and opinion of the posters. The posters and only posters shall be liable for any copyright infringement.